दुनिया का ऐसा विचित्र जिव जो कभी नही मरता है: टार्डीग्रेड कभी मरते क्यों नहीं है

दोस्तों हमारी धरती हजारों प्रकार के जीव जंतु मौजूद है और आपने अक्सर लोगों को ये कहते हुए सुना होगा कि जो भी व्यक्ति और जानवर इस धरती पर जन्म लेता है उसे एक दिन मारना ही होता है इसीलिए इस धरती पर जो भी जीव आया है उसका मरना निश्चित है लेकिन दोस्तों अगर मैं आपको कहूं की इस धरती पर एक ऐसा जीव भी विद्यमान है जो की अमर है जिसे आप चाहकर भी नहीं मार सकते हैं जिसे आप ना ही तो काट सकते हैं.

ना ही किसी चीज के नीचे दबा सकते हैं और ना ही आग में जला सकते हैं और ना ही ठंड की वजह से मार सकते हैं यहां तक की आप इसे स्पेस में ले जाकर भी नहीं मार सकते है आपको ये बात सुनने में केवल एक मजाक लग रही होगी लेकिन दोस्तों इस धरती पर एक ऐसा विचित्र जीव मौजूद है जो की अमर है मतलब कि इस जीव की मौत नहीं हो सकती है तो चलिए आज की इस मजेदार पोस्ट में एक ऐसे जीव के बारे में जानते हैं जो की अमर है |

दुनिया का ऐसा विचित्र जिव जो कभी नही मरता है

दोस्तों वैसे तो कहा जाता है कि इस धरती पर जो भी जीव उत्पन्न हुआ है उसका मरना निश्चित है लेकिन दोस्तों वैज्ञानिको के अनुसार टार्डीग्रेड एकमात्र ऐसा विचित्र जीव है जो कि कभी नहीं मारता है ये जीव इतना ज्यादा शक्तिशाली है कि ना तो ये ज्वालामुखी के लावे से मर सकता है और ना ही अंटार्कटिका देश की ठंडी वादियों में दबकर मर सकता है और आप ना ही इस जीव को किसी बड़ी चीज के नीचे दबकर मार सकते हैं..

और यंहा तक की आप इस जीव को अंतरिक्ष के अंधेरे में भी अगर छोड़ दे तो भी इस जीव को मार पाना नामुमकिन है यानी कि सीधे शब्दों में कहें तो टार्डीग्रेड इस धरती का सबसे अमर जीव है जिसकी मौत नामुमकिन है |

कैसे दिखाई देते हैं टार्डीग्रेड

दोस्तों टार्डीग्रेड एक अति सूक्ष्म जीव है जिसे इंसान के द्वारा नंगी आंखों से देखना नामुमकिन है इस जीव को देखने के लिए सूक्ष्म दृष्टि की जरूरत पड़ती है क्योंकि ये जीव काफी ज्यादा छोटा होता है इसीलिए नॉर्मल आंखों से दिखाई नहीं देता है और दोस्तों इस जीव की आठ टांगे होती है जैसा कि आप नीचे तस्वीर में देख सकते हैं………..

 दुनिया का ऐसा विचित्र जिव जो कभी नही मरता है: टार्डीग्रेड कभी मरते क्यों नहीं है

कहां पाए जाते हैं टार्डीग्रेड

दोस्तों ये कोई विशेष जीव नहीं है बल्कि ये साधारणता पाए जाने वाला जीव है जो की धरती पर हर जगह मौजूद है लेकिन ये जिव ज्यादातर पानी वाली जगह में पाए जाते हैं ये जीव तालाब,नदी,झील और यहां तक की समुद्री पानी में भी पाए जा सकते है लेकिन जैसा कि मैंने आपको बताया कि इन्हें नंगी आंखों से देखना नामुमकिन है इसलिए ऐसा भी हो सकता है कि ये जीव जो आप रोज पानी पीते हैं उसके अंदर भी मौजूद हो मतलब कि ये जीव पानी वाली हर जगह पर मौजूद हो सकता है |

टार्डीग्रेड का आकार

दोस्तों जैसा कि मैंने आपको बताया कि टार्डीग्रेड एक अति सूक्ष्म जीव होता है जिसे नंगी आंखों से नहीं देखा जा सकता है इसीलिए इसका आकार बहुत ही ज्यादा छोटा होता है इसका आकार 0.05 मिलीमीटर से लेकर 1.2 मिलीमीटर तक हो सकता है लेकिन दोस्तों ये जीव ज्यादातर एक मिलीमीटर से भी छोटे पाए जाते हैं |

यहां से आप हमारे यूट्यूब चैनल से भी जुड़ सकते हैं

पहला चैनल- Nirwan Fact
दूसरा चैंनल- Nirwan Bhai

कैसी-कैसी विकट परिस्थितियों में जीवित रह सकता है ये जीव(टार्डीग्रेड)

दोस्तों इस जीव को धरती का सबसे अमर प्राणी बोला जाता है यानी कि इस जीव की मृत्यु नामुमकिन है क्योंकि ये जीव जीरो डिग्री तापमान से लेकर 150 डिग्री के तापमान तक की गर्मी में भी जीवित रह सकता है वही ये जीव -200 डिग्री सेल्सियस के तापमान में भी जीवित रह सकता है और ना ही आप इस जीव को किसी बड़ी से बड़ी चीज के नीचे दबाकर कुचलकर मार सकते हैं.

और दोस्तों इस जीव का शरीर इतना ज्यादा मजबूत होता है कि ये किसी परमाणु हमले में भी जीवित रह सकता है यानी कि ये जीव मनुष्य से ज्यादा समय तक इस धरती पर रह सकता है क्योंकि अगर कभी धरती का सर्वनाश होता है या फिर कोई बड़ी आपदा आती है जिससे धरती का तापमान बढ़ जाता है.

जिससे मनुष्य और जानवर सहन नहीं कर पाते हैं तब भी ऐसी विकट परिस्थिति में भी ये जीव विकसित रह सकता है और ये जीव करीब 30 साल तक बिना कुछ खाने खाए पिए भी जीवित रह सकता है इसीलिए इस जीव को धरती का सबसे अमर प्राणी माना जाता है |

 दुनिया का ऐसा विचित्र जिव जो कभी नही मरता है: टार्डीग्रेड कभी मरते क्यों नहीं है

कैसे स्पेस के अंधेरे में जीवित रह सकता है ये जीव(टार्डीग्रेड)

दोस्तों टार्डीग्रेड का शरीर काफी ज्यादा मजबूत होता है जो कि हर विकट परिस्थिति में जीवित रह सकता है और इसी वजह से ये जीव स्पेस के अंधेरे में और अंतरिक्ष की विकट परिस्थिति में भी जीवित रह सकता है और इसी वजह से साल 2007 में वैज्ञानिकों ने Foton-M3 नाम के एक सेटेलाइट के अंदर हजारों टार्डीग्रेड को स्पेस में भेजा था लेकिन दोस्तों जब काफी समय के बाद ये सैटेलाइट वापस धरती पर लौटा..

तब वैज्ञानिक ये देखकर हैरान हो गए कि इतने दिनों के बाद भी स्पेस के अंधेरे में और बिना ऑक्सीजन के ये सभी टार्डीग्रेड जीवित थे और तभी वैज्ञानिकों ने मान लिया कि ये एक ऐसा जीव है जो कि कभी नही मर सकता है इसीलिए इसे दुनिया का सबसे अमर प्राणी माना जाने लगा हालांकि वैज्ञानिक अभी बहुत से टार्डीग्रेड को मंगल ग्रह पर भेजने की कोशिश कर रहे हैं ताकि ये पता लगाया जा सके कि अगर मंगल ग्रह पर इंसान लैंड करता है तो उसको कैसे वातावरण में सरवाइव करना होगा और उसके सामने कौन-कौन सी विकट परिस्थितियों आएगी।

निष्कर्ष

खैर दोस्तों में आशा करता हूं कि आपको ये मजेदार जानकारी जरूर पसंद आई होगी मैंने आपको इस पोस्ट के अंदर बड़ी ही सरल और आसान भाषा में एक ऐसे विचित्र जीव के बारे में बताया है जो की अमर है जो कि ना तो ज्वालामुखी के लावे से मार सकता है और ना ही किसी ठंडे से ठंडे स्थान पर मर सकता है इसीलिए अगर आपको ये पोस्ट थोड़ी बहुत भी इनफॉर्मेटिव या मजेदार लगी हो तो इस पोस्ट को एक बार अपने दोस्तों से शेयर जरूर करें मैं विकास राजपूत आपसे आज की इस मजेदार पोस्ट से विदा लेता हूं मिलता हूं ऐसी ही दूसरी मजेदार पोस्ट में बहुत ही जल्द |

Leave a comment